Reproductive Health: जानें 5 उपाय और बनाएं रिप्रोडक्टिव हेल्थ को मजबूत

अक्सर महिलाएं अपने हैल्थ के ऊपर कम ध्यान देती हैं और वह पूरा समय अपने या ऑफिस के काम में ही बिजी रहती हैं। जाने कैसे रखें ध्यान रीप्रोडक्टिव हैल्थ का इस हैल्थ संबंधी ब्लॉग के जरिए

Vaishali Garg
07 Jan 2023
Reproductive Health: जानें 5 उपाय और बनाएं रिप्रोडक्टिव हेल्थ को मजबूत

Reproductive Health

Reproductive Health: आज के इस भागदौड़ वाली जिंदगी में लगभग सभी लोग अपने हैल्थ के ऊपर कम ध्यान देते हैं और खासकर महिलाओं की बात करें तो महिलाएं अपने हैल्थ के ऊपर कम ध्यान देती हैं। वह पूरा समय अपने घर को देखने में या ऑफिस के काम में ही बिजी रहती हैं लेकिन यह बहुत जरूरी है कि अपनी हैल्थ को जिंदगी में पहली प्राथमिकता दे ताकि आप सभी प्रकार की बीमारियों से बच सकें। 

रिप्रोडक्टिव पार्ट महिलाओं के शरीर का सबसे महत्वपूर्ण भाग है। इस भाग को महिलाओं के शरीर का सबसे मजबूत भाग कहा जाता है। हमारे कुछ गलत आदतों से रिप्रोडक्टिव पार्ट के ऊपर भी असर पड़ सकता है। इसलिए हमें सोच समझकर सिर्फ और सिर्फ पौष्टिक आहार का सेवन करना चहिए तो आइए जानते हैं कि हम किस प्रकार अपने रिप्रोडक्टिव हैल्थ को स्वस्थ रख सकते हैं

1.धूम्रपान ना करें (Avoid Smoking)

धूम्रपान हमारे रिप्रोडक्टिव सिस्टम के लिए बहुत ही ज्यादा हानिकारक है। इसलिए हमें धूम्रपान का प्रयोग नहीं करना चाहिए। अगर हम अपने रिप्रोडक्टिव सिस्टम को हेल्थी रखना चाहते हैं तो हमें पौष्टिक भोजन करना चाहिए ताकि हमारा रिप्रोडक्टिव सिस्टम मजबूत रहे और हम स्वस्थ रहें।

2. कैफीन का सेवन कम करे

कैफीन हमारे रीप्रोडक्टिव हेल्थ के लिए बहुत बुरा साबित हो सकता है। इसलिए हमें कैफीन का प्रयोग बहुत कम करना चाहिए। जो महिलाएं बहुत ही ज्यादा कैफीन का प्रयोग करती हैं, उन्हें मां बनने की संभावनाएं बहुत कम हो जाती हैं।

3.पौष्टिक आहार का सेवन करे (Eat nutrients food)

हमारे रीप्रोडक्टिव हेल्थ को मजबूत बनाने के लिए यह जरूरी होता है कि हम पौष्टिक आहार ले जैसे की दूध, हरी सब्जियां , फ्रूट और जूस आदि। इन अहारों के प्रयोग से हमारे शरीर को विभिन्न प्रकार के विटामिंस , मिनरल्स, आईरन मिलते है जो हमारे रिप्रोडक्टिव पार्ट को मजबूत करने में काफी मददगार साबित होते हैं।

4. पर्याप्त मात्रा में नींद ले

अपने रिप्रोडक्टिव पार्ट को मजबूत बनाने के लिए हमें भरपूर मात्रा में नींद लेना चाहिए अगर हम जरूरत के हिसाब से नींद ले तो हमे किसी डॉक्टर या दवाइयों की जरूरत नहीं होती। बीमारियां अपनेआप ही दूर हो जाती हैं। 

5. एक्सरसाइज़ और योगा (Exercise and Yoga)

नियमित रूप से रोजाना एक्सरसाइज और योगा करने से हमारा रिप्रोडक्टिव हेल्थ सही रहता है।लेकिन एक बात का ख़ास ध्यान दे की कभी भी तेज गति में एक्सरसाइज और योगा ना करें। हमेशा मध्यम गति से ही योग और एक्सरसाइज करें।

image widget

Read The Next Article