How To Teach Sons To Respect Women: कैसे करें घर में लड़को की परवरिश?

हमारे समाज में हर चीज़ औरत को सिखाई जाती है कैसे रहना है, कपड़े पहनना है, शादी में कॉम्प्रॉमायज़ तो करना पड़ता है। वहीं लड़कों की बात करें तो उन्हें कुछ नहीं सिखाया जाता है। हमारे समाज का पूरा ज़ोर लड़कियों को सीखने पर होता है यह मत करों? यहाँ मत जाओ ?

Rajveer Kaur
15 Nov 2022
How To Teach Sons To Respect Women: कैसे करें घर में लड़को की परवरिश?

How To Teach Sons To Respect Women

हमारे समाज में हर चीज़ औरत को सिखाई जाती है कैसे रहना है, कपड़े पहनना है, बढ़ो के सामने बोलना नही है, पति की हर बात माननी, शादी में कॉम्प्रॉमायज़ तो करना पड़ता है। वहीं लड़कों की बात करें तो उन्हें कुछ नहीं सिखाया जाता है। जितना ध्यान माँ-बाप लड़की पर देते है उसका 1% लड़की को भी नहीं देते है। जिस कारण औरतें के साथ होने वाले क्राइम भी बड़ते है क्योंकि रेप होने पर गलती लड़की की निकाली जाती है लड़के की नहीं। हमारे समाज का पूरा ज़ोर लड़कियों को सीखने पर होता है यह मत करों? यहाँ मत जाओ ? ऐसा कपड़ो मत पहनो लेकिन कभी लड़को को नहीं सिखाया जाता कैसे लड़कियों की इज्जत करनी हैं ?आज आप को बताएंगे कैसे करें घर में लड़को की परवरिश?

How To Teach Boys To Respects Women: कैसे करें घर में लड़को की परवरिश?

कंसेंट के बारे में बताए 
रेप का मुख्य कारण यहीं है कि लड़के लड़की से कंसेंट लेना जरूरी नहीं समझते है। लड़कों को यह घर पर ही सीखना चाहिए कि कंसेंट बहुत जरूरी है। चाहे आप लड़की का हाथ पकड़ रहे है या फिर आप उसे किसी भी तरीके से इंटिमेट हो रहे इन सब के लिए कंसेंट लेना बहुत जरूरी है।  

टॉक्सिक मैस्क्युलिनिटी को बढ़ावा ना दे
हमारे समाज में टॉक्सिक मैस्क्युलिनिटी को बहुत बढ़ावा दिया जाता है जैसे कि लड़कों को रोने नहीं दिया जाता उन्हें कहा जाता है कि तुम लड़की हो जो रो रहे हो। ऐसे ही उन्हें अपने इमोशंस फीलिंग को एक्सप्रेस करने नहीं दिया जाता जिस कारण वे अपने मन की बात किसी की इसके साथ शेयर नहीं कर पाते और मेंटल इलनेस का शिकार होते हैं। हमें उन्हें उनकी फिलिंग्स को एक्सप्रेस करने देना चाहिए।

घर के काम सिखाएं
हमेशा शुरू से ही लड़कियों को घर के कामकाज में शामिल किया जाता है। लड़कों को घर के कामकाज  से दूर रखा जाता है क्योंकी अभी भी सोच है कि घर के काम सिर्फ औरतों की जिम्मेदारी है। अगर घर में कोई गेस्ट आ रहे हैं तो जरूरी नहीं है कि आप घर में अपनी बेटी को ही सर्व करने को कहे आप अपने बेटे को भी कह सकते हैं। इससे एक नई शुरुआत हो सकती है जो आगे जाकर औरतों के लिए एक अच्छा माहौल पैदा कर सकती है।

सेक्स के बारे में बताए
लड़कों को सेक्स के बारे में जानकारी देनी चाहिए क्योंकि हमारे समाज में जितने भी सेक्स के बारे में शिक्षा मिलती है वह या तो पोर्न साइट से लड़के लेते हैं यहां तो फिर आसपास जो उनके दोस्त हैं आप उनको बता देते हैं।

अनुशंसित लेख