What Is Partner Connect: पार्टनर के साथ संबंध को कैसे करे मजबूत

पार्टनर से संबंध को मजबूत करने के लिए आपको उनसे अपने पीरियड से जुड़ी सभी बातें भी करनी चाहिए। आपके पार्टनर को जब आपके पीरियड्स से संबंधित सभी जानकारी होगी तो वह इस समय आपकी मदद कर सकते हैं|

Monika Pundir
06 Dec 2022
What Is Partner Connect: पार्टनर के साथ संबंध को कैसे करे मजबूत

Partner Connect

What Is Partner Connect: पार्टनर के साथ संबंध को कैसे करे मजबूत

पार्टनर के साथ संबंध को मजबूत करने के लिए आपको उनसे अपने पीरियड से जुड़ी सभी बातें भी करनी चाहिए। आपके पार्टनर को जब आपके पीरियड्स से संबंधित सभी सही जानकारी होगी तो वह इस समय में आपकी मदद कर सकते हैं और आपकी पीरियड्स डेट का भी सही ट्रेक रख सकते हैं।

कैसे अपने पार्टनर से संबंध मजबूत करें

1. दूसरे के साथ समस्या शेयर करने से उस समस्या का तनाव आधा हो जाता है। अगर आप अपने पार्टनर को अपनी पीरियड साइकिल की सही जानकारी देंगे तो यह आपके तनाव को कम करेगा साथ ही आपके पार्टनर आपके काम में भी सहायता कर सकते हैं।

2. महिलाओं की पीरियड साइकिल के दौरान पूरे महीने भर में हार्मोंस का उतार-चढ़ाव होता है जिसका प्रभाव उनके स्वभाव पर पड़ता है। हार्मोंस के उतार-चढ़ाव के कारण महिलाओं में क्रैविंग, मूड स्विंग और पेट व कमर में दर्द जैसी समस्याएं होती है, अगर आपके पार्टनर को आपकी पीरियड साइकिल का पता होगा तो वह आपकी यह सब समस्याएं ज्यादा बेहतर समझ पाएंगे।

3. पीरियड्स के दौरान मूड स्विंग होने के कारण महिलाएं भावनात्मक रूप से बेहतर महसूस नहीं करती हैं। हार्मोंस के उतार-चढ़ाव के कारण ही यह होता है। अगर आपके पार्टनर को पीरियड साइकिल की सही जानकारी होगी तो वह इस समय आपके लिए भावनात्मक रूप से हमेशा अवेलेबल रहेंगे।

4. पीरियड साइकिल महिलाओं की सेक्स ड्राइव को भी प्रभावित करती है। हार्मोंस के उतार-चढ़ाव के कारण महीने भर में महिलाओं की सेक्स ड्राइव प्रभावित होती रहती है। इसका असर ना सिर्फ महिलाओं पर बल्कि उनके पार्टनर की सेक्स लाइफ पर भी पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि आपके पार्टनर को आपकी पीरियड साइकिल के बारे में पता हो ताकि वह समझ पाए कि आप सेक्स के लिए तैयार हैं या नहीं।

5. अगर आप गर्भधारण करने का सोच रहे हैं तो इसलिए भी आपके पार्टनर को आपकी पीरियड साइकिल के बारे में सभी जानकारी होनी चाहिए। उन्हें आपके ओवुलेशन फेज के बारे में पता होना चाहिए ताकि वह भी प्रेगनेंसी प्लेन में पूरी तरह से इंवॉल्व हो सके।

 6. ऐसा जरूरी नहीं है की आपके पार्टनर को मेंस्ट्रुएशन के बारे में जो कुछ पता है वह सब सही जानकारी हो। मेंस्ट्रेएशन से जुड़े ऐसे बहुत से मिथ हैं जिन पर अक्सर हम लोग भरोसा कर लेते हैं। इसलिए यह भी आपकी जिम्मेदारी बनती है कि आप अपने पार्टनर को पीरियड साइकिल से जुड़ी सारी सही और पर्याप्त जानकारी दें ताकि वह किसी भी प्रकार की भ्रांति पर विश्वास ना करें।

7. अपने पार्टनर को अपनी पीरियड साइकिल के बारे में सभी जानकारी देना आपके रिश्ते को मजबूत करता है। यह आप दोनों के बीच कंपैटिबिलिटी और प्यार को बढाता है।

Read The Next Article