Advertisment

महिलाएं ऐसे पहचानें High Prolactin Level के लक्षणों को

अधिक प्रोलैक्टिन लेवल्स महिलाओं को कई समस्याओं का सामना करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। इसका कारण हो सकता है प्रोलैक्टिन का हाई लेवल कई शारीरिक और मानसिक समस्याओं को बढ़ावा देता है।

author-image
Kavya Gupta
New Update
High Prolactin Level(freepik)

(Image Source: freepik)

8 Symptoms That A Woman Prolactin Level Is Too High: "प्रोलैक्टिन" एक हॉर्मोन है जो मादा प्रजनन सिस्टम के लिए महत्वपूर्ण है। यह शरीर की मांसपेशियों में उत्पन्न होता है, विशेष रूप से स्तनों में और गर्भाशय में। प्रोलैक्टिन का मुख्य काम है स्तनपान को बढ़ाना और स्तन मांसपेशियों को विकसित करना, जो नवजात शिशु के लिए महत्वपूर्ण होता है। इसके अलावा, प्रोलैक्टिन का माध्यम सोने की नींद को नियंत्रित करना भी होता है। प्रोलैक्टिन का अत्यधिक बढ़ने से कई समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि गर्भाशय से यूरिन का पास न होना, स्तन में दर्द और अनियमित मासिक धर्म।

Advertisment

महिलाएं ऐसे पहचानें High Prolactin Level के लक्षणों को

1. अनियमित मासिक धर्म चक्र

उच्च प्रोलैक्टिन का स्तर सामान्य मासिक धर्म चक्र को मुश्किल कर सकता है, जिससे अनियमित मासिक धर्म हो सकता है या मासिक धर्म पूरी तरह से रुक सकता है। जब प्रोलैक्टिन की मात्रा अत्यधिक होती है, तो यह मासिक धर्म की समय सीमा को प्रभावित कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं। यह अत्यधिक प्रोलैक्टिन के कारण हो सकता है, जैसे कि गर्भाशय में गांठों का उत्पन्न होना, गर्भाशय के संक्रमण या अन्य हार्मोनल असंतुलन। 

Advertisment

2. गैलेक्टोरिया

अत्यधिक प्रोलैक्टिन स्तनों से ज़्यादा दूध उत्पादन का कारण बन सकता है, यहां तक कि उन महिलाओं में भी जो गर्भवती नहीं हैं। 

3. बांझपन 

Advertisment

हाई प्रोलैक्टिन लेवल  ओव्यूलेशन में मुश्किलें कर सकता है, जिससे महिलाओं के लिए गर्भधारण करना मुश्किल हो जाता है। 

4. कामेच्छा में कमी

हाई प्रोलैक्टिन स्तर विभिन्न सेक्सुअल डिसफंक्शन्स, जैसे कि कम सेक्सुअल ड्राइव (कम इच्छा सेक्स करने की),नपुंसकता (कम या कोई सेक्सुअल स्वास्थ्य संबंधित इच्छा या काम करने की आग्रह की क्षमता) और अनवितन सेक्सुअल संबंधों के साथ जुड़ी समस्याओं का कारण बन सकता है।

Advertisment

5. योनि में सूखापन

 अत्यधिक प्रोलैक्टिन से योनि में सूखापन हो सकता है, जिससे सेक्स असहज या दर्दनाक हो सकता है। 

6. सिरदर्द

Advertisment

हाई प्रोलैक्टिन लेवल वाली कुछ महिलाओं को बार-बार सिरदर्द या माइग्रेन का अनुभव हो सकता है। 

7. मुँहासे या तैलीय त्वचा

हाई प्रोलैक्टिन लेवल त्वचा की बनावट में बदलाव में योगदान कर सकता है, जैसे तैलीयपन में वृद्धि या मुँहासे निकलना। 

Advertisment

8. मूड में बदलाव

प्रोलैक्टिन का उच्च स्तर मूड को प्रभावित कर सकता है, जिससे अवसाद, चिंता या चिड़चिड़ापन के लक्षण उत्पन्न होते हैं

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

symptoms महिलाओं Woman Prolactin Level high लक्षण High Prolactin Level
Advertisment