Anxiety During Pregnancy: एंग्जायटी से है प्रीमच्योर डिलीवरी का खतरा

Apurva Dubey
08 Oct 2022
Anxiety During Pregnancy: एंग्जायटी से है प्रीमच्योर डिलीवरी का खतरा

एक अध्ययन के अनुसार, जो महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान एंग्जायटी से गुजरती हैं, उनमें सामान्य प्रेग्नेंट महिलाओं के तुलना में प्रीमच्योर डिलीवरी होने का खटट्र ज्यादा होता है। हाल ही में जर्नल हेल्थ साइकोलॉजी में प्रकाशित शोध, डॉक्टरों को यह समझने में मदद कर सकता है कि गर्भावस्था के दौरान चिंता की जांच कब और कैसे की जाए ताकि प्रीमैच्योर डिलीवरी को रोका जा सके।

Anxiety During Pregnancy: एंग्जायटी से है प्रीमच्योर डिलीवरी का खतरा 

प्रेगनेंसी के दौरान अक्सर चिंता, स्ट्रेस और एंग्जायटी के कारण होने वाली माँ घबरा जाती है और जिसके कारण बच्चा का समय से पहले जन्म होने का खतरा बना रहता है। प्रेग्नेंट महिलाओं में इस तरह के डिप्रेसिव फीलिंग्स को जांचने और काम करने के लिए काफी टीमें जुटी हैं। तनाव केवल प्रेगनेंसी के दौरान ही बरकरा नहीं रहता, बल्कि इसका असर आपके पोस्टपार्टम पर भी पड़ता है।   

अध्ययन से पता चलता है कि डॉक्टरों को गर्भावस्था की शुरुआत में सामान्य चिंता के लिए महिलाओं की जांच करनी चाहिए, जैसे वे आमतौर पर अवसाद के लिए स्क्रीन करते हैं। 

कई बार प्रेगनेंसी के दौरान हो रहे हार्मोनल बदलाव भी महिलाओं में डिप्रेशन पैदा कर सकते हैं। अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो किसी भी तरह के नकारात्मक सोच से दूर रहे, क्योंकि डिप्रेशन आपकी अवस्था को ख़राब कर सकता है। इससे आपके बच्चे और आपकी सेहत को भी भरी नुक्सान पहुँचता है। 

चिंता कम करना ही है इलाज 

गर्भावस्था के दौरान चिंता को कम कर सकते हैं इससे आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकते हैं। कई महिलाओं के लिए, गर्भावस्था के दौरान एंटी-एंग्जायटी पिल्स एक विकल्प नहीं है, क्योंकि भ्रूण पर ऐसी दवा का गलत असर पद सकता है। कुछ महिलाएं जिन्होंने पहले चिंता के लिए दवाएं ली थीं, वे व्यक्तिगत कारणों से गर्भावस्था के दौरान दवाएं बंद कर सकती हैं।

Cognitive Behavior Therapy (सीबीटी) जैसे उपचार प्रेगनेंसी और डिलीवरी से पहले की अवधि (जन्म देने के कुछ समय पहले, दौरान और बाद की अवधि) में काम कर सकते हैं। सीबीटी दुर्भावनापूर्ण विचारों, भावनाओं और कार्यों को चुनौती देने पर केंद्रित है, और यह डायाफ्रामिक श्वास जैसी चिंता प्रबंधन रणनीतियों का उपयोग करता है।

अनुशंसित लेख