Pre-Menstrual Syndrome: जानिए कैसे निपटा जा सकता है पीएमएस से

अक्सर महिलाओं को पीरियड्स आने के एक से दो सप्ताह पहले ही खुद में कुछ मानसिक और शारीरिक बदलाव महसूस होने लगते है। इसको पीएमएस कहा जाता है यानि प्री-मेंस्ट्रुअल सिंड्रोम। जानिए पीएमएस के कारण से निवारण तक हर महत्वपूर्ण जानकारी इस हैल्थ ब्लॉग के माध्यम से

Aastha Dhillon
24 Jan 2023
Pre-Menstrual Syndrome: जानिए कैसे निपटा जा सकता है पीएमएस से

PMS

PMS: प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (पीएमएस) चाइल्डबियरिंग उम्र की महिलाओं के एक उच्च प्रतिशत को प्रभावित करता है, कई महिलाओं को पीरियड्स से पहले के दिनों में मूड में बदलाव महसूस होता है। और जबकि पीरियड्स के लक्षण जैसे चिड़चिड़ापन, गुस्सा और मिजाज ज्यादातर महिलाओं के लिए एक परेशानी है, गंभीर पीएमएस कुछ के लिए भावनात्मक रूप से कमजोर कर सकता है। सौभाग्य से, पीएमएस का इलाज दवा और जीवनशैली में बदलाव के साथ करने से महिलाओं को मूड में बदलाव और अन्य भावनात्मक कठिनाइयों को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। 

लक्षण (Symptoms Of PMS)

हर महिला महिला पीरियड से 5 दिन पहले टीएमएस के लक्षणों को महसूस करती है यह किसी महिला में ज्यादा दिखाई देते हैं और किसी महिला में कम। पीएमएस के लक्षणों में बहुत सी चीजें इंक्लूड होती है जैसे पीरियड क्रैंप्स, ब्लोटिंग, भूख ज्यादा लगना या कम लगना, थकान महसूस करना  नींद का पूरा न होना, मुंह पर एक्ने हो जाना, आपके मूड स्विंग्स होना जैसे गुस्सा आना चिड़चिड़ापन कभी आप बहुत ज्यादा खुश हो जाते हो। इसके अलावा आप बहुत ज्यादा चिंता करने लग जाते हो आप में डिप्रेशन के लक्षण दिखाई देने लग जाते हैं।

आखिर क्या है घरेलू उपाय ?

1.जरूर करे एक्सरसाइज (Exercise)

आमतौर पर शरीर को स्वस्थ रखने के लिए एक्सरसाइज करना जरुरी होता है। साथ ही यह आपको पीरियड्स के दर्द में आराम देने में भी सहायक है। इसके लिए आप हल्की एक्सरसाइजेज, योग, जिम और साइकिलिंग कर सकती है। ध्यान रहे की हैवी एक्सरसाइजेज न करे क्योंकि यह पीरियड्स में दर्द का कारण बन सकता है। 



2.सीड्स होगे फायदेमंद

पीरियड्स आने के एक हफ्ते पहले से आपको कुछ सीड्स का सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप सूरजमुखी के बीज, तिल के बीज, कद्दू के बीज, आदि का इस्तेमाल कर सकती है। यह सीड्स आपको पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से आराम दिलाने में मददगार साबित होंगे। 

3.हेल्थी फैट का सेवन करे

पीएमएस के वक़्त हेल्थी फैट लेना और मीठे फल खाना अच्छा माना गया है। इसके लिए आप गाय का देसी घी, ओलिव आयल और कुछ बीजो को शामिल कर सकती है। यह आपके शरीर में होर्मोनेस को संतुलित रखता है। 

4.अच्छी नींद है जरुरी

आपको स्वस्थ रहने के लिए कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद जरुरी होती है। पीरियड्स और पीएमएस के दौरान भी आपको अच्छी नींद लेने की आवशयक्ता होती है। इसके लिए आप रात में टाइम से सो जाए इससे आप एनर्जेटिक महसूस करेगी।

5.नट्स का सेवन करें

पीएमएस से बचाव के लिए आपको नट्स खाने चाहिए। नट्स में हर प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते है। आप बादाम और किसमिस का सेवन करे। रात को 4 से 5 किसमिस और बादाम पानी में भीगा कर रखे और सुबह उन्हें खा ले। इसके साथ ही ध्यान रहे की पीरियड्स आने के कुछ समय पहले से प्रोसेस्ड फ़ूड, जंक फ़ूड खाना बंद कर दे क्योकि इनकी तासीर गर्म होने क कारण यह नुकसान दायक होते है। 

Read The Next Article