Medical Tests For Women: औरतों को कौन कौन से टेस्ट करवा लेने चाहिए

भारतीय समाज में अगर घर में औरत यह भी कह दे कि बुखार है तो घर वाले कहने लग जाते हैं कि ड्रामे कर रही है घर का काम नहीं करना होगा तभी कह रही है आजकल की लड़कियां तो घर के कामों से बचने के लिए यह सब कहती है।

Rajveer Kaur
29 Dec 2022
Medical Tests For Women: औरतों को कौन कौन से टेस्ट करवा लेने चाहिए

Medical Tests For Women

 हमारे समाज में ऐसी बहुत कम औरतें होंगे जो अपनी सेहत पर अच्छे से ध्यान देती होगी नहीं तो औरतें हमेशा अपनी सेहत को कभी भी पहल नहीं देती है। जब भी औरतों से सेहत की बात होती है तो वे कह देती है कि इतना तो प्रॉब्लम रहती है अब इसे लेकर बैठ जाएगी तो फिर काम कैसे होगा बच्चों को कौन देखेगा हस्बैंड का खाना कौन बनाएगा? सेहत हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा हैअगर हम इस पर ध्यान दे देंगे तो हमारी जो सेहत संबंधी समस्या है आगे बढ़ती जाएगी फिर कब यह एक गंभीर बीमारी रूप ले लेगी हमें पता भी नहीं चलेगा।

भारतीय समाज में अगर घर में औरत यह भी कह दे कि मेरा सिर दुख रहा है या बुखार है तो  घर वाले कहने लग जाते हैं कि ड्रामे कर रही है घर का काम नहीं करना होगा तभी कह रही है आजकल की लड़कियां तो घर के कामों से बचने के लिए यह सब कहती है।

आज हम जानेंगे किऔरतों को कौन कौन से टेस्ट करवा लेने चाहिए

हीमोग्लोबिन एंड सीबीसी (Hemoglobin & CBC)
भारतीय औरतों में एनीमिया एक बड़ी समस्या है। National family health survey के अनुसार आधे से ज्यादा 55 प्रतिशत औरतें एनीमिया से ग्रस्त है। एनीमिया एक ऐसी स्थिति है जिसमें खून में रेड ब्लड सेल्स की कमी हो जाती है। इसके कारण आपके शरीर के अंगों में ऑक्सीजन कमी, थकान आदि रहने लगती है।

Thyroid Function
महिलाओं में थायराइड का सीधा असर महावारी पर पड़ता है।  इसके कारण पीरियड्स इरेगुलर या आते नही है।  रिपोर्ट के मुताबिक आठ में से एक महिला अपनी जिंदगी में इसका शिकार होती है। इसके अलावा वजन पर असर पड़ता है और हार्टबीट भी कम या ज्यादा होने लगती है।

Vitamin deficiencies 
यह भी एक जरूरी टेस्ट है जो औरतों को जरूर करवा लेना चाहिए। इस स्थिति में औरतों में या मर्दों में भी लम्बे समय तक विटामिन की कमी हो जाती है जिसके थकान, रूखी स्किन, डिप्रेशन आदि लक्षण दिखाई देते है। इसके साथ ही मुस्ल भी कमज़ोर होने लगते है।

हार्मोनल इम्बैलेंस (Hormonal Imbalance)
यह भी एक जरूरी टेस्ट जो महिलाएं जरूर करवा ले नहीं तो आगे जाकर और भी समस्याओं का सामना करना पड सक्ता हैं। आजकल PCOD और PCOS जैसे सिंड्रोम है जो पीरियड इम्बैलेंस के कारन होते है।  इसके लक्षण जैसे बालों का झड़ना, वजन काम या ज्यादा होना डिप्रेशन और एंग्जायटी हैं। 

Read The Next Article