Sarson Ke Fayede: मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाए सरसों, क़ब्ज़ को करे दूर

सरसों का प्रयोग हर भारतीय परिवार में होता आया है। सरसों में विटामिन, मिनरल, फाइबर और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। आइए जानें इस हैल्थ ब्लॉग में सरसों के फ़ायदे

Prabha Joshi
14 Jan 2023
Sarson Ke Fayede: मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाए सरसों, क़ब्ज़ को करे दूर

खेत में लहलहाती सरसों

Sarson Ke Fayede: दाल हो या सब्ज़ी, सरसों की छौंक किस घर में नहीं लगती। सरसों का प्रयोग उसके पत्तों और बीजों, दोनों के रूप में लिया जाता है।  अंग्रेज़ी में ‘मस्टर्ड’ के नाम से जाना जाने वाले सरसों में कैल्शियम, सेलेनियम, फ़ास्फ़ोरस, मैग्नीशियम, आयरन और मैंगनीज जैसे मिनरल होते हैं। इसके साथ ही विटामिन बी, के, सी भी पाया जाता है। सरसों से फाइबर और प्रोटीन भी मिलता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।

क्या हैं सरसों के फ़ायदे:


  1. कैंसर दूर करता है: सरसों के बीज में फाइटोकेमिकल्स पाए जाते हैं, जो कैंसर को बढ़ने से रोकता हैं।
  2. सूजन में आराम दे : सरसों के तेल में थोड़ी-सी हल्दी मिलाकर सूजन वाले स्थान पर लगाने से आराम मिलता है।
  3. पाचन शक्ति को रखें मज़बूत : सरसों का साग खाने से और बीज को छौंक के प्रयोग में लाने से पाचन शक्ति मज़बूत होती है। इसमें शामिल फ़ाइबर पेट में क़ब्ज़ होने से रोकता है।
  4. दांतों का पीलापन दूर करें : सरसों के बीज के तेल में नमक मिलाकर, दांतों पर मंजन करने से दांतो का पीलापन दूर होता है।
  5. मसूड़ों के दर्द में आराम : सरसों के तेल को नमक में मिलाकर लगाने से मसूड़ों का दर्द दूर होता है।
  6. त्वचा को कोमल करे : सरसों के तेल की शरीर पर मालिश से न केवल शरीर के दर्द से छुटकारा मिलता है बल्कि त्वचा भी कोमल होती है।
  7. बालों को आराम : सर पर सरसों का तेल डालने से सिर दर्द में आराम मिलता है और बालों को पोषण मिलने के साथ बाल झड़ने कम हो जाते हैं, रूसी दूर होती है।
  8. मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाए : सरसों की सब्जी खाने से मेटाबॉलिज़्म रेट बढ़ता है। इसमें शामिल फ़ास्फ़ोरस और मैग्नीशियम मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाता है।
  9. झुर्रियां दूर करें : सरसों में शामिल विटामिन ए, के और सी त्वचा में बढ़ती झुर्रियों को रोकता है और जवान बनाए रखता है।
  10. भूख बढ़ाता है : सरसों का तेल खाने में प्रयोग करने से पेट ठीक रहता है, भूख बढ़ती है।  

इस तरह हम सरसों के पत्ते और उसके बीज प्रयोग में लेकर अपनी सेहत अच्छी कर सकते हैं। सरसों के पत्ते का साग बनता है। साग को सादा या आलू के साथ प्रयोग में लिया जा सकता है। 

Read The Next Article