Advertisment

Vaginal Dryness: टेम्पोंस बन सकते हैं वजाइनल ड्राइनेस की वजह, कैसे?

अधिकतर महिलाएं पीरियड के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल करती हैं। पीरियड के लिए यह एक बहुत ही प्रभावशाली प्रोडक्ट है साथ ही इसका इस्तेमाल और इसे कैरी करना भी आसान होता है। ऐसे में महिलाएं अक्सर इसका इस्तेमाल करना अधिक पसंद करती हैं।

author-image
Priya Singh
New Update
Tampons

Tampons can cause vaginal dryness: अधिकतर महिलाएं पीरियड के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल करती हैं। पीरियड के लिए यह एक बहुत ही प्रभावशाली प्रोडक्ट है साथ ही इसका इस्तेमाल और इसे कैरी करना भी आसान होता है। ऐसे में महिलाएं अक्सर इसका इस्तेमाल करना अधिक पसंद करती हैं। लेकिन टैम्पोन कभी-कभी वजाइना में ड्राईनेस पैदा कर सकते हैं, एक ऐसी स्थिति जो असुविधाजनक हो सकती है और अन्य समस्याओं को जन्म दे सकती है। यह समझना कि टैम्पोन वजाइना की ड्राईनेस में कैसे योगदान दे सकते हैं, मासिक धर्म स्वास्थ्य और आराम के लिए महत्वपूर्ण है। आइये जानते हैं इसके बारे में अधिक- 

Advertisment

टेम्पोंस बन सकते हैं वजाइनल ड्राइनेस की वजह, जानिए कैसे

1. नेचुरल लुब्रिकेंट्स को सोखना

टैम्पोन को मासिक धर्म के ब्लड को सोखने के लिए डिज़ाइन किया गया है, लेकिन वे नेचुरल वजाइनल डिस्चार्ज को भी सोख सकते हैं जो वजाइना की परत को नम रखते हैं। इस दोहरे अवशोषण से सूखापन हो सकता है, खासकर अगर पीरियड ब्लड कम होने पर टैम्पोन का उपयोग किया जाता है या यदि उन्हें अनुशंसित से अधिक समय तक छोड़ दिया जाता है।

Advertisment

2. ज्यादा सोखने वाले टैम्पोन

ज्यादा सोखने वाले टैम्पोन में ड्राईनेस होने की अधिक संभावना होती है। ये टैम्पोन आवश्यक नेचुरल लुब्रिकेट सहित अधिक तरल पदार्थ अवशोषित करते हैं। सुपर अब्जोर्ब्सन टैम्पोन का उपयोग करने वाली महिलाओं को कम अब्जोर्ब करने वाले प्रोडक्ट का उपयोग करने वाली महिलाओं की तुलना में अधिक महत्वपूर्ण सूखापन का अनुभव हो सकता है।

3. रासायनिक संरचना

Advertisment

कुछ टैम्पोन में रसायन, सुगंध या अन्य योजक होते हैं जो जलन और सूखापन में योगदान कर सकते हैं। इन सामग्रियों का उद्देश्य टैम्पोन के प्रदर्शन को बढ़ाना या सुखद खुशबू प्रदान करना है, लेकिन वे वजाइना में प्राकृतिक पीएच संतुलन और नमी के स्तर को बाधित कर सकते हैं।

4. बार-बार बदलना

बार-बार टैम्पोन बदलना, हालांकि स्वच्छता के लिए अच्छा है, लेकिन ड्राईनेस को बढ़ा सकता है। हर बार जब टैम्पोन डाला और हटाया जाता है, तो यह वजाइना की परत को परेशान कर सकता है और नेचुरल डिस्चार्ज को हटा सकता है। इस दोहराव वाली क्रिया से समय के साथ जलन और सूखापन हो सकता है।

Advertisment

5. सामग्री के प्रति संवेदनशीलता

टैम्पोन में इस्तेमाल सामग्री के प्रति संवेदनशीलता भी सूखापन का कारण बन सकती है। 100% कपास के बजाय सिंथेटिक फाइबर से बने टैम्पोन से वजाइनल म्यूकस में जलन होने की अधिक संभावना हो सकती है। संवेदनशील त्वचा या एलर्जी वाली महिलाओं को लग सकता है कि इन सामग्रियों से शुष्कता और असुविधा बढ़ जाती है।

6. अपर्याप्त स्नेहन

पर्याप्त नेचुरल लुब्रिकेंट्स के बिना टैम्पोन डालने से वजाइना की परत में मामूली खरोंच या सूक्ष्म दरारें हो सकती हैं। ये छोटी चोटें सूखापन और असुविधा की अनुभूति में योगदान कर सकती हैं, जिससे टैम्पोन का उपयोग दर्दनाक हो जाता है और वजाइना के ऊतक और अधिक शुष्क हो जाते हैं।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

Vaginal Dryness मासिक धर्म tampons टेम्पोंस
Advertisment