आजकल हेयर लॉस की दिक्कत सभी को रहती है और इसी कारण कई लोग तनाव (stress ) लेने लगते है , ये न जानते हुए की तनाव से हेयर फॉल और भी बढ़ जाता है । ये दिक्कत बढ़ती उम्र के कारण हो सकती है और कुछ लोगों की ये दिक्कत जेनेटिक ( genetic ) भी होती है । हेयर लॉस कई कारणों से हो सकता है , इसीलिए आपको ये पता होना आवश्यक है की आपके बाल गिरने का कारण क्या है ? , जैसे की प्रेगनेंसी के दौरान हेयर फॉल होना एक बहुत ही साधारण बात है पर अगर आपको हेयर फॉल thyroid , scalp infections , स्ट्रेस और बढ़ती उम्र के कारण हो रहा है , तो आपको तुरंत डॉक्टर से checkup करवाना चाहिए । hair loss kaise roke

image

Mediterranean Diet 

2018 की एक स्टडी के दौरान हमें पता चलता है की मेडिटरेनीयन डाइट , जैसे की फ्रेश हर्ब्स or और raw vegetables वाला फ़ूड , “androgenic alopecia ” के रिस्क को कम करता हैं । Androgenic alopecia एक जेनेटिक कंडीशन होती है , जो की वूमेन और मेन ,दोनों को ही प्रभावित करती है । इसमें 13 साल या फिर 20 साल की हैल्दी उम्र में बाल झड़ने लगते है ।

हेयर आयल ट्रीटमेंट ( Hair Oil Treatment)

आप सभी को अपने बालों को स्ट्रांग बनाने के लिए , रात को सोने से पहले अपने बालों पर तेल लगाकर मालिश करनी चाहिए । अक्सर किसी को भी बालों में तेल लगाना पसंद नहीं होता मगर कोकोनट और पेपरमिंट जैसे तेल आपके बालों के लिए बहुत ही अच्छे और फायदेमंद होते है । रात को सोने से पहले तेल लगाने से आपकी स्कैल्प को काफी नौरिश्मेंट मिलता है और आपके बालों से डैंड्रफ और डेड सेल्स गायब हो जातें हैं और फिर अगले दिन सबह उठकर आप अपना सर धो सकतें हैं ।

अगर आपको पूरी रात अपने बालों में तेल लगाए रखने से कोई परेशानी होती है , तो आप सभी सर धोने से लगभग 1 घंटा पहले अपने बालों की गर्म तेल से मालिश करें , आपके स्कैल्प के पोर्स को तेल का नौरिश्मेंट भी मिलेगा और उस area में ब्लड फ्लो भी बढ़ेगा । होममेड हेयर मास्क एक बहुत ही सस्ता उपाय है , जो हेयर फॉल को बिना किसी केमिकल के कंट्रोल करने में सक्षम है । इससे आपके बालों की सुंदरता बनी रहती है ।

ग्रीन टी और एग हेयर ट्रीटमेंट

ग्रीन टी में EGCG (epigallocatechin-3-gallate) होता है , जो की हेयर ग्रोथ में मदद करता है । काफी पुराने समय से बालों की समस्या के लिए , एग को बहुत ही पॉपुलर ingredient माना जाता है, क्यूंकि अंडे में प्रोटीन काफी अच्छी मात्रा में होता है । इससे हमारे बालों को वो सभी जरूरी नुट्रिएंट्स मिलते है  जो की हेयर ग्रोथ के लिए जरूरी होते है ।

हेयर ट्रांसप्लांटेशन 

ये बालों के लिए , एक restorative method है और हम हेयर डोनर की मदद से , हेयर लॉस वाले एरिया को भर सकतें हैं और इस मेथड में काफी कम कॉम्प्लीकेशन्स होती है ।

अन्य डाइट 

हेयर हेल्थ के लिए , आप क्या खाते है ? ये भी उतना ही जरूरी होता है , जितना बालों पर तेल लगाने की जरूरत होती है । जब आपके बाल झड़ने लगते है , तो एक हेअल्थी और बैलेंस्ड डाइट को बनाए रखना , बहुत ही जरूरी बन जाता है । ऐसे में आपको उस खाने का कंसम्पशन करना चाहिए , जो की ज़िंक , आयरन , विटामिन बी काम्प्लेक्स , प्रोटीन , omega fatty acids और विटामिन सी आदि में रिच हो । हैल्दी
डाइट से हमारे बाल nourished और moisturized रहतें हैं ।

wooden comb

आप सभी को लकड़ी की कंघी का इस्तेमाल करना चाहिए क्यूंकि इससे आपके बाल कम टूटते है ।और सिर्फ इतना ही नहीं , आपको इस बात का ध्यान भी रखना चाहिए की जब आपके बाल गीले हो , तो उन्हें कोंब नहीं करना चाहिए क्यूंकि गीले बाल अक्सर बहुत जल्दी टूटते है और इसी कारण हेयर लॉस भी होता है ।

रेगुलर वाशिंग 

आप सभी को रोजाना बाल धोने चाहिए , तांकि आपकी स्कैल्प हेअल्थी और साफ़ रहे । आपको इस चीज़ का ध्यान जरूर रखना चाहिए की , आप अपना सर “माइल्ड शैम्पू ” से ही धोएं क्योंकि harsh shampoo में केमिकल्स होतें है , जो की बालों को ड्राई कर देते है और इसी वजह से हेयर लॉस होता है ।

प्याज का रस

जिन लोगों को alopecia areata की दिक्कत होती है , उन्हें उनकी स्कैल्प पर प्याज के रस से मालिश जरूर करनी चाहिए , क्यूंकि प्याज के रस से बालों की रिग्रोथ होती है । एक रिसर्च के दौरान हमें पता चला की सच में प्याज का रस काफी असरदार है और डॉक्टर्स ने कहा की , ये जादू प्याज के सल्फर कंटेंट का है ।

योग 

अगर आपके बाल स्ट्रेस के कारण झड़ते है , तो आपके लिए योग से बेहतर कोई और उपाय नहीं हो सकता क्यूंकि स्ट्रेस से डील करने के लिए योगा बहुत ही फायदेमंद है अपने बालों को गिरने से बचाने के लिए, आपको कुछ स्ट्रेस रिलीविंग योगा पोसेस (posses ) सीखने चाहिए ।

हेयर प्रोसेसिंग 

केमिकल ट्रीटमेंट , जैसे की हेयर कलर और ये आपके बालों और स्कैल्प को डैमेज करते हैऔर आपको केमिकल हेयर कलर की जगह आर्गेनिक कलर डाई का इस्तेमाल करना चाहिए, जिनमें अमोनिया और पेरोक्साइड न हो ।

और पढ़िए : लॉकडाउन में शाम को सैर के लिए घर से बाहर जाना क्या सही है ?

Email us at connect@shethepeople.tv