Advertisment

Millets Benefits: जानिए डाइट में बाजरा शामिल करने के फायदे

जो पाचन, हृदय स्वास्थ्य, वजन नियंत्रण और मधुमेह प्रबंधन में मदद करते हैं। कुल मिलाकर, बाजरा एक स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन है जो आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है।

author-image
Anusha Ghosh
New Update
png 64

(Times of India)

Millets: आपके  आहार में ज्वार, बाजरा,  रागी जैसे बाजरा शामिल करना बहुत फायदेमंद है। ये लस मुक्त होते हैं, जो उन्हें सीलिएक रोग या लस असहिष्णुता वालों के लिए उपयुक्त बनाता है। साथ ही, बाजरा फाइबर, प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होते हैं, जो पाचन, हृदय स्वास्थ्य, वजन नियंत्रण और मधुमेह प्रबंधन में मदद करते हैं। कुल मिलाकर, बाजरा एक स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन है जो आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है।

Advertisment

आइए देखें अपने डाइट में बाजरा शामिल करने के 5 फायदे

1. पाचन में

बाजरा में अच्छी मात्रा में आहार फाइबर होता है, जो पाचन तंत्र के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करता है. यह घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फाइबर प्रदान करते हैं। घुलनशील फाइबर आपके पाचन तंत्र में एक जेल जैसा पदार्थ बनाता है जो भोजन को धीरे-धीरे आगे बढ़ाता है, जिससे आपको लंबे समय तक तृप्त महसूस होता है और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। कुल मिलाकर, बाजरा कब्ज, गैस, पेट फूलना, ऐंठन जैसी पाचन समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं और जिगर, गुर्दे जैसे अन्य महत्वपूर्ण अंगों के समग्र स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। साथ ही, एक स्वस्थ पाचन तंत्र रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है क्योंकि पोषक तत्व भोजन से अधिक कुशलता से अवशोषित होते हैं।

Advertisment

2. मधुमेह नियंत्रण और समग्र स्वास्थ्य

बाजरा का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) कम होता है, इसका मतलब है कि यह आपके रक्त शर्करा के स्तर को अचानक नहीं बढ़ाता है। यह मधुमेह रोगियों के लिए या रक्त शर्करा को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए एकदम सही भोजन है। इसके अलावा, बाजरा जटिल कार्बोहाइड्रेट होते हैं जो धीरे-धीरे ऊर्जा छोड़ते हैं, आपको पूरे दिन ऊर्जावान बनाए रखते हैं। साथ ही, बाजरा मैग्नीशियम, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे खनिजों से भरपूर होते हैं, जो शरीर के विभिन्न कार्यों के लिए आवश्यक होते हैं और समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।

3. हृदय के लिए अच्छा

Advertisment

बाजरा में घुलनशील और अघुलनशील फाइबर दोनों होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं, जिससे हृदय रोग का खतरा कम होता है। घुलनशील फाइबर रक्तप्रवाह से अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने में मदद करता है। इसके अलावा, बाजरा मैग्नीशियम से भरपूर होते हैं, जो स्वस्थ रक्तचाप बनाए रखने में मदद करता है। साथ ही, बाजरा में पाए जाने वाले कुछ खास तत्व सूजन को कम करने में भी मदद करते हैं, जो हृदय रोग के जोखिम को कम करने में भी कारगर साबित हो सकता है।

4. वजन नियंत्रण और पोषण का पावरहाउस

बाजरा न केवल फाइबर से भरपूर होते हैं, बल्कि यह प्रोटीन का भी अच्छा स्रोत है। फाइबर आपको तृप्त महसूस कराने में मदद करता है और जंक फूड के लिए लालसा को कम करता है, जबकि प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण और मरम्मत में मदद करता है। ये दोनों कारक स्वस्थ वजन प्रबंधन में योगदान करते हैं। साथ ही, बाजरा कई तरह के विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं, जिनमें लोहा, कैल्शियम और विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स शामिल हैं। ये पोषक तत्व स्वस्थ हड्डियों, मांसपेशियों और तंत्रिका तंत्र के कार्य को बनाए रखने के लिए आवश्यक हैं।

 5. लस मुक्त और सभी के लिए उपयुक्त

बाजरा सीलिएक रोग या लस असहिष्णुता वाले लोगों के लिए एक उत्कृष्ट विकल्प बनाता है। सीलिएक रोग एक ऑटोइम्यून बीमारी है जो छोटी आंत को नुकसान पहुंचाती है जब लस का सेवन किया जाता है। लस असहिष्णुता एक ऐसी स्थिति है जिसमें लस के सेवन से पेट में परेशानी होती है।

Millets
Advertisment