Advertisment

Postpartum Pregnancy Issues: C-सेक्शन के बाद की कमज़ोरी को दूर करने का उपाय

C-सेक्शन एक महिला के लिए शारीरिक और आत्मिक रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकता है। यह महिलाओं में बचा पैदा करने का दूसरा तरीका है जो कई महिलाओं को अपनाना पड़ता है।

author-image
Kavya Gupta
New Update
Postpartum Pregnancy Issues(FREEPIK)

(Image Source: freepik)

Strategies For Recovering After A C-Section More Quickly: C-सेक्शन (सी-सेक्शन) एक महिला के लिए शारीरिक और आत्मिक रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकता है। यह महिलाओं में बचा पैदा करने का दूसरा तरीका है जो कई महिलाओं को अपनाना पड़ता है। C-सेक्शन के बाद कमर, पेट और अन्य शारीरिक अंगो में दर्द और असुविधा हो सकती है। साथ ही, कभी कभी यह माँ और बच्चे के बीच रिश्तों को प्रभावित कर सकता है। इसलिए, C-सेक्शन के बाद महिलाओं को अच्छी देखभाल और सपोर्ट की आवश्यकता होती है। रेगुलर बेसिस पर डॉक्टर से सलाह लेना और उनका पालन करना महत्वपूर्ण होता है। इससे तेज़ रिकवरी की संभावना बढ़ती है।

Advertisment

C-सेक्शन के बाद की कमज़ोरी को दूर करने का उपाय 

1. ज्यादा से ज़्यादा आराम 

C-सेक्शन के बाद महिलाओं को अधिक से अधिक आराम करना चाहिए। शरीर को पूरी तरह से आराम देना इसीलिए भी अच्छा है ताकि माँ की ऊर्जा फिर से बढ़ सके। इससे चोट की संभावित क्षति को भी कम किया जा सकता है। उन्हें अपने डॉक्टर की सलाह का पालन करते हुए उपयुक्त आराम और तंदुरुस्त जीवनशैली का पालन करना चाहिए। इसके अलावा, चेकअप भी महत्वपूर्ण है ताकि कोई भी समस्या समय पर पहचानी जा सके और सही समाधान किया जा सके।

Advertisment

2. दवाई न भूलें

यह बहुत महत्वपूर्ण है कि महिलाएं C-सेक्शन के बाद डॉक्टर द्वारा बताई गयी दवाओं का सही समय पर उपयोग करें। यह दवाएं अलग- अलग कारणों के लिए दी जाती हैं, जैसे कि शारीरिक स्वस्थता, संक्रमण का खतरा, रिकवरी को गति देने के लिए आदि। 

3. सही पोषण न भूलें

Advertisment

एक स्वस्थ पोषण योजना या उचित आहार एक अच्छा शरीर बनाने में महिलाओं की मदद कर सकता है। खासकर, शिशु को दूध पिलाने में और माँ के शारीरिक और मानसिक रिकवरी में मदद करने के लिए विशेष पोषण की जरूरत होती है। महिलाओं को अपने आहार में प्रोटीन, फल, सब्जियाँ, अनाज और पर्याप्त पानी की आवश्यकता होती है। वे भूख और ज़रुरत के अनुसार अपने आहार को मैनेज करने का प्रयास कर सकती हैं और एक्टिव रहकर अपने शरीर को ऊर्जा देने के लिए नियमित व्यायाम कर सकती हैं।

4. चीरे की देखभाल

इन्फेक्शन को रोकने के लिए चीरे वाले क्षेत्र को साफ और सूखा रखें। घाव की देखभाल के लिए अपने डॉक्टर की सलाह का पालन करें, जिसमें चीरे को कैसे साफ करना है और ड्रेसिंग कब बदलना है बताया गया हो। ऐसी गतिविधियों से बचें जो आपके पेट की मांसपेशियों पर दबाव डालती हैं, जैसे कि भारी वस्तुओं को उठाना या ज़्यादा व्यायाम आदि, जब तक कि आपके डॉक्टर द्वारा मंजूरी न दे दी जाए। 

Advertisment

5. गतिविधि में धीरे-धीरे वापसी

जैसे ही आप कम्फर्टेबल महसूस करें तो अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार अपनी शारीरिक एक्टीविटीज के स्तर को धीरे-धीरे बढ़ाएं। चलने जैसी हल्की गतिविधियों से शुरुआत करें और धीरे-धीरे अधिक ज़ोरदार व्यायाम की ओर बढ़ें। 

6. इमोशनल हेल्प 

इस दौरान कई बार आपको इमोशनल ब्रेकडाउन हो सकता है तो ऐसी स्तिथि में अपने परिवार, पार्टनर या दोस्तों की मदद लें।  

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

C - Section कमजोरी C-सेक्शन Strategies Recovering
Advertisment