Advertisment

अपने बच्चों की ना करें दूसरे बच्चे से तुलना, हो सकते हैं यह 5 नुकसान

अपने बच्चों को दूसरे बच्चों से तुलना करने से उनके आत्मविश्वास में कमी, ईर्ष्या जैसी भावनाएं पैदा हो सकती हैं। जानें बच्चों की तुलना ना करने के कारण और उनकी परवरिश के बेहतर तरीके।

author-image
Vaishali Garg
New Update
Parents being supportive

Parenting Tips: हर माता-पिता अपने बच्चों को सर्वश्रेष्ठ देखना चाहते हैं। लेकिन, कभी-कभी, हम गलती से अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से कर देते हैं। यह तुलना न केवल बच्चों के लिए हानिकारक हो सकती है, बल्कि माता-पिता के बीच भी तनाव पैदा कर सकती है।  

Advertisment

अपने बच्चों की ना करें दूसरे बच्चे से तुलना, हो सकते हैं यह एलजी नुकसान

1. आत्मविश्वास में कमी

दूसरे बच्चों से तुलना किए जाने पर बच्चे कम आत्मविश्वास महसूस कर सकते हैं। वे सोचने लगते हैं कि वे अच्छे नहीं हैं या वे कभी भी दूसरे बच्चे जितने सफल नहीं हो पाएंगे। यह कम आत्मविश्वास उनके जीवन के हर पहलू को प्रभावित कर सकता है, पढ़ाई से लेकर दोस्ती तक।

Advertisment

2. ईर्ष्या और नकारात्मक भावनाएं

दूसरे बच्चों से तुलना किए जाने से बच्चों में ईर्ष्या, द्वेष और नकारात्मक भावनाएं पैदा हो सकती हैं। वे दूसरे बच्चे से नफरत करने लगते हैं और उनसे प्रतिस्पर्धा करने की कोशिश करते हैं। इससे भाई-बहन के बीच तनाव और लड़ाई भी हो सकती है।

3. अनुचित दबाव

Advertisment

माता-पिता जब अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से करते हैं, तो वे उन पर एक अनुचित दबाव डाल देते हैं। बच्चे महसूस करते हैं कि उन्हें हमेशा बेहतर प्रदर्शन करना होगा और वे कभी भी गलती नहीं कर सकते। यह दबाव बच्चों के लिए बहुत तनावपूर्ण हो सकता है और इससे वे चिंता और अवसाद जैसी मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का भी शिकार हो सकते हैं।

4. अद्वितीयता की कमी

हर बच्चा अद्वितीय होता है और उसकी अपनी प्रतिभा और क्षमताएं होती हैं। जब आप अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से करते हैं, तो आप उन्हें यह संदेश देते हैं कि वे अद्वितीय नहीं हैं और उन्हें दूसरों की तरह बनने की कोशिश करनी चाहिए। यह बच्चों की रचनात्मकता और आत्म-अभिव्यक्ति को दबा सकता है।

5. कमजोर रिश्ता 

जब आप अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से करते हैं, तो आप उनके साथ अपने रिश्ते को कमजोर कर देते हैं। बच्चे महसूस करते हैं कि आप उनसे खुश नहीं हैं और आप उनसे प्यार नहीं करते हैं। यह उनके आत्म-सम्मान को कम कर सकता है और उन्हें भावनात्मक रूप से आपसे दूर कर सकता है।

parenting parenting tips
Advertisment