Advertisment

Myths About Metabolism: मेटाबॉलिज्म के बारे में 5 मिथक

blog/sehat: कुछ लोगों का मेटाबॉलिज्म रेट बहुत कम होता है जिसके लिए अगर वे पानी भी पीते हैं तो उनका वजन बड़ी आसानी से बढ़ जाता है। इसलिए हर कोई अपने मेटाबॉलिज्म रेट को बूस्ट करने के लिए दौड़ता है। जानिए मेटाबॉलिज्म से जुड़े मिथक। आगे पढ़िए

author-image
Debopriya
Mar 02, 2023 15:20 IST
tips for weight loss

myths about metabolism

Myths About Metabolism: वजन बढ़ना एक बड़ी समस्या है जिसका सामना आजकल हर कोई करता है। हर दूसरा व्यक्ति अपना वजन कम करने के लिए दौड़ रहा है। ऐसे बहुत से लोग हैं जिनका मेटाबॉलिज्म रेट हाई होता है जिसके लिए उनका वजन कम होता है। लेकिन कुछ लोगों का मेटाबॉलिज्म रेट बहुत कम होता है जिसके लिए अगर वे पानी भी पीते हैं तो उनका वजन बड़ी आसानी से बढ़ जाता है। इसलिए हर कोई अपने मेटाबॉलिज्म रेट को बूस्ट करने के लिए दौड़ता है। जानिए मेटाबॉलिज्म से जुड़े मिथक।

Advertisment

मेटाबॉलिज्म के बारे में मिथक क्या हैं

weight loss myths

1. धीरे-धीरे खाने से बढ़ता है मेटाबॉलिज्म : कई लोगों का मानना है कि अगर आप धीरे-धीरे खाएंगे तो आपका मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ जाएगा जिससे आपको वजन घटाने में मदद मिलेगी। कई लोग इसे आजमाते भी हैं लेकिन यह ज्यादा काम नहीं करता। जब आप सोते हैं तो आपका मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। देखा गया है कि नींद के दौरान मेटाबॉलिज्म बढ़ता है, खासकर दुबले लोगों में।

Advertisment

2. पहले डाइट फिर एक्सरसाइज : ऐसे बहुत से लोग होते हैं जो रोजाना एक्सरसाइज तो करते हैं लेकिन डाइट से बचते हैं और मानते हैं कि इससे वजन कम होगा। लेकिन यह सच नहीं है कि अगर आप व्यायाम कर रहे हैं तो भी आपको आहार की आवश्यकता नहीं है क्योंकि व्यायाम आपको वजन कम करने में मदद करेगा और आहार आपको फिर से अतिरिक्त वजन बढ़ाने में मदद करेगा। स्वस्थ आहार खाने के बिना कितना भी व्यायाम आपको वजन कम करने में मदद नहीं कर सकता है। संतुलित आहार लें और व्यायाम भी करें जिससे आपका मेटाबॉलिज्म तेज हो।

3. थोड़ा-थोड़ा भोजन खाने से मेटाबॉलिज्म बढ़ता है : ऐसा कहा जाता है कि यदि आप थोड़ा-थोड़ा भोजन करते हैं तो यह आपके मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ा देता है, लेकिन यह बिल्कुल सच नहीं है। ज्यादा भोजन की तुलना में थोड़ा और अधिक बार भोजन करना बेहतर हो सकता है, लेकिन इसका आपकी मेटाबॉलिज्म दर से बहुत कम लेना-देना है। तो फिर से सोचें।

4. मेटाबॉलिज्म नहीं बदल सकता : अगर आपको लगता है कि आप मेटाबॉलिज्म नहीं बदल सकते तो यह सच नहीं है आप इसे बदल सकते हैं। सही खाना खाने, अधिक पानी पीने और व्यायाम करने से आपकी चयापचय दर पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है।

5. पतले लोगों का होता है तेज मेटाबॉलिज्म : हर कोई सोचता है कि पतले लोगों का मेटाबॉलिज्म रेट ज्यादा होता है लेकिन यह सच नहीं है। तथ्य यह है कि अधिक वजन वाले लोगों की तुलना में कई पतले लोगों का आराम करने वाला मेटाबॉलिज्म धीमा होता है। मेटाबॉलिज्म को क्या प्रभावित करता है, यह आपकी मांसपेशियों पर निर्भर है।

चेतावनी : प्रदान की जा रही जानकारी केवल सूचनात्मक उद्देश्य से है।कुछ भी प्रयोग में लेने से पूर्व चिकित्सा विशेषज्ञ से अवश्य परामर्श लें।

#myths #metabolism
Advertisment