Advertisment

Facial Hair: महिलाओं के चेहरे पर बाल होने की ये है वजह

आमतौर पर यह देखा जाता है कि महिलाओं के चेहरे पर दाढ़ी उगने का मुख्य कारण उनके जेनेटिक्स होता है। आइए जानें महिलाओं के चेहरे पर बाल किस किस बीमारी की वजह से उग सकते हैं।

author-image
Niharikaa Sharma
New Update
REASONS OF FACE HAIR ON WOMEN

Image Credit- Pinterest

Facial Hair: बहुत सारी महिलाओं के चेहरे पर हल्के रोएं पाई जाती हैं। लेकिन जब ये रोएं भारी होने लगते हैं या दाढ़ी की तरह दिखने लगते हैं, तो यह महिलाओं के लिए एक बड़ी समस्या बन जाती है। आमतौर पर यह देखा जाता है कि महिलाओं के चेहरे पर दाढ़ी उगने का मुख्य कारण उनके जेनेटिक्स (Genetics) होता है। चेहरे पर बाल उगना महिलाओं के लिए एक शर्मनाक समस्या हो सकती है। इस कारण से अक्सर महिलाएं डॉक्टरों के पास जाने से बचती हैं। लेकिन अपनी समस्या को नज़रअंदाज़ करने के कारण आप किसी गंभीर बीमारी की चपेट में आ सकती हैं। आइए जानें महिलाओं के चेहरे पर बाल किस किस बीमारी की वजह से उग सकते हैं।

Advertisment

महिलाओं के चेहरे पर बाल होने की ये है वजह

कुशिंग्स सिंड्रोम (Cushings Syndrome)

यह एक प्रकार की मेडिकल कंडीशन है, कुशिंग्स सिंड्रोम के कारण महिलाओं के एड्रेनल ग्लैंड में समस्या होती है, जिससे शरीर में कोर्टिसोल नामक हार्मोन का अतिरिक्त उत्पादन होता है। कोर्टिसोल एक स्ट्रेस से संबंधित हार्मोन है। जब एड्रेनल ग्लैंड में समस्या होती है, तो महिलाओं के चेहरे पर बाल उगने लगते हैं। कई मामलों में देखा गया है कि महिलाओं के चेहरे पर बहुत ज्यादा बाल उग आते हैं। कुशिंग्स सिंड्रोम होने पर महिलाओं के चेहरे पर बाल उगने के अलावा, वजन बढ़ना, ब्लड प्रेशर बढ़ना, पीरियड्स से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं।

Advertisment

पीसीओएस (PCOS)

पॉलिसिस्टिक ओवरियन सिंड्रोम (पीसीओएस) का मतलब है। आमतौर पर, इस समस्या के कारण महिलाओं के चेहरे पर बाल उगते हैं। पीसीओएस होने पर, महिलाओं की ओवरी में सूजन हो सकती है। ओवरी में सूजन के कारण, महिलाओं के शरीर में हार्मोन का बैलेंस बिगड़ सकता है। पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को कई हैल्थ से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, जैसे अचानक वजन बढ़ना, बालों का झड़ना, और इरेगुलर पीरियड्स का होना। इस तरह के लक्षणों के साथ, महिलाओं को तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

हाइपरट्राइकोसिस (Hypertrichosis)

Advertisment

यह एक मेडिकल कंडीशन है, जो महिलाओं और पुरुषों दोनों में पाई जा सकती है। इसे वेयरवुल्फ सिंड्रोम के नाम से भी जाना जाता है। यह समस्या आमतौर पर किसी अन्य बीमारी के कारण नहीं होती है, जैसे हाइपोथायराइडिज्म या एचआईवी। कुछ दवाओं के सेवन से भी यह समस्या हो सकती है। हाइपरट्राइकोसिस के कारण कान और नाक के ऊपर बाल उग सकते हैं।

मेल हार्मोन का बढ़ना ( Increased Male Hormones)

कई बार महिलाओं के शरीर में मेल हार्मोन, जिसे टेस्टोस्टेरोन भी कहा जाता है, बढ़ने लगता है। इसके कारण महिलाओं के चेहरे और शरीर के कई अन्य हिस्सों में बाल उगने लगते हैं। यह बारे में अधिक जानकारी के लिए, एक डॉक्टर से सलाह करना सही हो सकता है।

Advertisment

दवाई का सेवन (Medicines)

ज्यादा दवाई का सेवन करने से भी महिलाओं के चेहरे पर बाल उग सकते हैं क्योंकि कुछ दवाओं के इस्तेमाल का सीधा असर होता है और वे हॉर्मोनल बैलेंस को प्रभावित कर सकती हैं। विशेष रूप से, कुछ दवाओं में एंटीअंड्रोजन होते हैं जो अंड्रोजन संबंधी हार्मोन के प्रभाव को कम कर सकते हैं, जिससे बालों की बढ़त हो सकती है। इसलिए, किसी भी दवा का सेवन करने से पहले, डॉक्टर से सलाह लेना उचित होता है।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

PCOS Male Hormones Facial Hair वजन बढ़ना ब्लड प्रेशर Genetics
Advertisment