Advertisment

Managing Stress: आर्थिक तनाव और चिंता को कैसे करें मैनेज ?

मंहगाई, अप्रत्याशित खर्चे, और भविष्य की अनिश्चितताएं सभी मिलकर हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर प्रभाव डाल सकती हैं। हालांकि, आर्थिक चिंता को प्रबंधित करने के लिए आप कुछ कदम उठा सकते हैं और अपने आप को आर्थिक रूप से सुरक्षित महसूस करा सकते हैं। 

author-image
Anusha Ghosh
New Update
png 55

(Healthline)

Managing Stress : आज की दुनिया में, आर्थिक तनाव और चिंता होना आम बात है। मंहगाई, अप्रत्याशित खर्चे, और भविष्य की अनिश्चितताएं सभी मिलकर हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर प्रभाव डाल सकती हैं। हालांकि, आर्थिक चिंता को प्रबंधित करने के लिए आप कुछ कदम उठा सकते हैं और अपने आप को आर्थिक रूप से सुरक्षित महसूस करा सकते हैं। 

Advertisment

आइए जानते हैं आर्थिक तनाव और चिंता को मैनेज करने के 5 तरीके

1. अपनी आय और खर्च का ट्रैक रखें

यह पहला कदम है। अपने  मासिक आय और खर्च का ब्योरा बनाए रखें। इससे आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि आपका पैसा कहां जा रहा है और आप अनावश्यक खर्चों में कटौती कर सकते हैं। कई बजट ट्रैकिंग ऐप्स और वेबसाइट उपलब्ध हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं।

Advertisment

2. बजट बनाएं और उस पर टिके रहें

एक बार जब आप अपने खर्चों को समझ जाते हैं, तो एक यथार्थवादी बजट बनाएं। इसमें आपकी सभी आय और नियोजित खर्च शामिल होने चाहिए। हर महीने अपने बजट का पालन करने का प्रयास करें। यदि आप ट्रैक से हट जाते हैं, तो घबराएं नहीं। बस अपना बजट समायोजित करें और अगले महीने फिर से प्रयास करें।

3. अपने वित्तीय लक्ष्य निर्धारित करें

Advertisment

आपका पैसा आपके लक्ष्यों को प्राप्त करने में आपकी सहायता कर सकता है। सेवानिवृत्ति के लिए बचत करना हो, बच्चे की शिक्षा के लिए फंड जमा करना हो, या अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना हो, अपने वित्तीय लक्ष्यों को निर्धारित करें। फिर, उन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक ठोस बचत और निवेश योजना बनाएं।

4. आपातकालीन कोष बनाएं

अप्रत्याशित घटनाओं के लिए तैयार रहना महत्वपूर्ण है।  नौकरी छूटना, चिकित्सा संबंधी खर्च, या घर की मरम्मत जैसी चीजें आपके वित्तीय नियोजन को बिगाड़ सकती हैं। इसलिए, अपने मासिक खर्च के 3-6 महीने के बराबर की राशि का आपातकालीन कोष बनाने का प्रयास करें। आप इसे बचत खाते में या किसी ऐसी जगह पर रख सकते हैं जहां से आसानी से निकाला जा सके।

5. कर्ज प्रबंधन

अत्यधिक कर्ज वित्तीय तनाव का एक प्रमुख कारण है। यदि आप पर बहुत अधिक कर्ज है, तो कर्ज चुकाने की रणनीति बनाएं। आप उच्च ब्याज दर वाले ऋणों का समेकन करने या अतिरिक्त आय स्रोत खोजने पर विचार कर सकते हैं। वित्तीय सलाहकार से परामर्श लेने से आपको अपने ऋणों का प्रबंधन करने और उन्हें तेजी से चुकाने में मदद मिल सकती है।

finance अपनी आय और खर्च का ट्रैक रखें बजट बनाएं और उस पर टिके रहें अपने वित्तीय लक्ष्य निर्धारित करें कर्ज प्रबंधन
Advertisment