Advertisment

Overthinking के 6 लक्षण जो आपकी मानसिक शांति छीन सकते हैं

अतिविचार करना एक आम समस्या है, लेकिन इसे पहचानना और इससे निपटना महत्वपूर्ण है। यदि आप नीचे दिए गए किसी भी संकेत को अपने जीवन में महसूस करते हैं, तो यह समय है कि आप इसे सुधारने की कोशिश करें।

author-image
Dibya Debasmita Pradhan
New Update
Signs of overthinker

Image Credit: Pinterest

6 Signs That You Are Overthinker: अतिविचार करना एक आम समस्या है, लेकिन इसे पहचानना और इससे निपटना महत्वपूर्ण है। यदि आप नीचे दिए गए किसी भी संकेत को अपने जीवन में महसूस करते हैं, तो यह समय है कि आप इसे सुधारने की कोशिश करें। ध्यान, योग और सकारात्मक सोच जैसी तकनीकें आपकी मदद कर सकती हैं। अपने मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखना और अपने विचारों को नियंत्रित करना, आपको एक स्वस्थ और खुशहाल जीवन जीने में मदद कर सकता है।

Advertisment

Overthinking के 6 लक्षण जो आपकी मानसिक शांति छीन सकते हैं

1. You second guess everything 

यदि आप हर छोटे-बड़े निर्णय पर दोबारा सोचते हैं, तो यह एक संकेत हो सकता है कि आप ओवरथिंग करते हैं। जैसे, आपने कोई ईमेल भेजा और फिर बार-बार सोचने लगे कि क्या आपने सही लिखा। आप अक्सर सोचते रहते हैं कि क्या आप सही कर रहे हैं या नहीं, जिससे निर्णय लेने में समय अधिक लगता है और आप मानसिक रूप से थक जाते हैं।

Advertisment

2. You take things personally 

अतिविचारक लोग अक्सर चीजों को व्यक्तिगत रूप से लेते हैं। यदि कोई आपके बारे में कुछ कहता है, तो आप बार-बार उस बात को सोचते हैं और उसे अपने ऊपर ले लेते हैं। इससे आपके मन में नकारात्मक भावनाएँ बढ़ती हैं और आत्म-सम्मान में कमी आती है। यह आदत आपको मानसिक तनाव में डाल सकती है।

3. You criticise yourself a lot

Advertisment

आप अपनी गलतियों पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देते हैं और खुद को बहुत अधिक आलोचना करते हैं। आप सोचते रहते हैं कि आप क्या बेहतर कर सकते थे और अपने आप को हर छोटी गलती के लिए दोषी ठहराते हैं। इससे आत्म-विश्वास में कमी आती है और आप हमेशा खुद को कमतर महसूस करते हैं।

4. You analyse and analyse and analyse 

आप हर छोटी-बड़ी बात का बार-बार विश्लेषण करते हैं। जैसे, किसी ने आपको नजरअंदाज किया, तो आप सोचते रहते हैं कि क्यों हुआ, क्या कारण हो सकता है। यह मानसिक प्रक्रिया आपको थकान और तनाव में डालती है। आपका मस्तिष्क हमेशा सक्रिय रहता है और आप सामान्य जीवन का आनंद नहीं ले पाते।

Advertisment

5. You hate making decisions 

आपको निर्णय लेना बहुत कठिन लगता है। आप सोचते रहते हैं कि यदि आपका निर्णय गलत हुआ तो क्या होगा। यह भय आपको निर्णय लेने से रोकता है और आप हमेशा किसी और की राय पर निर्भर रहते हैं। इससे आपके आत्म-निर्भरता में कमी आती है और आप जीवन के महत्वपूर्ण क्षणों को खो सकते हैं।

6. You can’t let things go

जब आप किसी घटना या बात को जाने नहीं देते और उसे बार-बार सोचते रहते हैं, तो यह एक संकेत है कि आप ज़्यादा सोचते हैं। चाहे वह कोई पुरानी गलती हो या किसी का नकारात्मक व्यवहार, आप उसे भूल नहीं पाते और बार-बार उसे सोचते रहते हैं। इससे आपका मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है और आप हमेशा तनाव में रहते हैं।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

overthinking hate making decisions analyse criticise yourself take things personally
Advertisment