मैं क्यों अपने पीरियड को लेकर शर्मिंदगी महसूस करूँ ? क्या ये नार्मल नहीं हैं ?

शाइनेस

क्या आपने कभी ये सवाल करने की ज़हमत उठाई कि सरकार द्वारा लाई गई पॉलिसी में कोई पॉलिसी हमारे पीरियड्स की बात क्यों नही करती? हमारे देश के स्कूलों में कितनी बार इस टॉपिक से जुड़े अवेयरनेस प्रॉग्राम हुए जिसमें लड़को को भी शामिल किया गया हो? कितनी बार मंदिरों के पंडितों ने महिलाओं को शक की नज़र से ना देखा हो?

Read More
periods in office
Read More

क्या आप इन पीरियड मिथ्स में विश्वास करती हैं?

आज भी महिलाओं को कुछ सामाजिक-सांस्कृतिक समारोहों में शामिल होने की अनुमति नहीं है क्योंकि उन्हें महीने के उन पांच दिनों के लिए अपवित्र माना जाता है।

Read More
शाइनेस
Read More

पीरियड से जुड़े 5 मिथ और सच, जानें डॉक्टर तान्या से।

ऐसा मिथ है की पीरियड ब्लड गंदे होते हैं। पीरियड ब्लड बिल्कुल भी गंदे नहीं होते, यह वही ब्लड हैं जो आपकी बॉडी की रगों(veins) में होता है।

Read More
periods in office
Read More

जानिए पीरियड्स से जुड़े मिथ और उनकी असली सच्चाई

लोग मानते हैं कि पीरियड्स के दौरान स्विमिंग के लिए नहीं जाना चाहिए। लेकिन ऐसा नहीं है। पानी में पैड की जगह टैम्पॉन का ही उपयोग करके आप स्विमिंग कर सकते हैं क्योंकि यह काफी ज्यादा कंफर्टेबल होता है।

Read More
Period Conversations नार्मलाइज़
Read More

कहीं आप भी इन पीरियड्स से जुड़े मिथ्स से अनजान तो नहीं?

यह एक myth है कि पीरियड्स के दिनों sex करना unhealthy होता है। आप अगर अपने उन दिनों मे सेक्स करने के लिए comfortable है तो आप बिल्कुल कर सकती है।

Read More

हमारे बारे में

शीदपीपल.टीवी भारत का पहला महिला-केंद्रित मीडिया प्लेटफार्म है. हम महिलाओं की जर्नी, और उनकी कहानियों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं. हम उन्हें एक ऐसे अद्बुद्ध नेटवर्क से जोड़ते हैं जो उन्हें सशक्त बनाता है,उन्हें प्रेरित करता है और उन्हें आगे बढ़ने का बढ़ावा देता है।

भारत में प्रत्येक गुज़रते साल के साथ महिलाएं ऑनलाइन आ रही हैं. उन्हें एक ऐसे प्लेटफार्म की ज़रुरत है जो उन्हें समझ पाए. हम उन महिलाओं से जुड़ते हैं जो नए विचारों और प्रेरणा के साथ दुनिया को समृद्ध करते हैं.

पुरस्कार विजेता पत्रकार शैली चोपड़ा द्वारा स्थापित, शीदपीपल.टीवी वो आवाज है जो भारतीय महिलाओं को आज चाहिए।